जिलाधिकारी ने ऐसा क्या देखा स्कूल में जो उनका पारा चढ़ा आसमान पर

0
123
जिलाधिकारी ने ऐसा क्या देखा स्कूल में जो उनका पारा चढ़ा आसमान पर
जिलाधिकारी ने ऐसा क्या देखा स्कूल में जो उनका पारा चढ़ा आसमान पर
चमोली  पुष्कर चौधरी
जिलाधिकारी आशीष जोशी ने  सैकोट राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। निरीक्षण में जिलाधिकारी ने छात्रावास कक्षों में पाया कि बिजली के लो बोल्टेज के बल्ब कमरों में लगे होने के कारण बच्चों को पठन-पाठन में दिक्कत हो रही है। इसके साथ की कुछ बच्चों के शरीर पर छोटी-छोटी फुंसियां के कारण खुजली हो रही है।
 जिलाधिकारी ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को बच्चों के आवासीय कमरों में शीघ्र उरेडा विभाग से समन्वय कर कमरों में एलईडी बल्ब लगवाने के निर्देश दिये तथा मुख्य चिकित्साधिकारी को विद्यालय में शीघ्र चिकित्सा टीम भेजकर बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण के निर्देश दिये। उन्होंने विद्यालय में बच्चों की भोजन व्यवस्था का भी जायजा लेते हुए विद्यालय के प्रभारी अधीक्षक को बच्चों के भोजन व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये साथ ही बच्चों के बिस्तरों की साफ-सफाई व स्वच्छ पेयजल पर ध्यान देने को कहा, ताकि बच्चों को पठन-पाठन में किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो। विद्यालय में अध्ययनरत बच्चों की जानकारी पर बताया गया कि वर्तमान में 49 छात्र अध्ययनरत हैं। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी विनोद गोस्वामी, जिला विकास अधिकारी आनंद सिंह, सहित विद्यालय के प्रभारी अधीक्षक भरत सिंह राणा उपस्थित थे।
जिलाधिकारी आशीष जोशी के निर्देशों पर बुधबार को जिला समाज कल्याण अधिकारी सुरेन्द्र केडवाल द्वारा उरेडा विभाग से समन्वय करते हुए विद्यालय के बच्चों के आवासीय कमरों में एलईडी बल्ल लगवाये गये। वहीं चिकित्सा विभाग द्वारा चिकित्सा टीम भेजकर विद्यालय में बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण किया गया और निःशुल्क दवाईयों भी वितरित की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here