दो आतंकवादी निरोधक दस्ता तैनात

0
147

कल आज से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र को लेकर भरारीसैंण-गैरसैंण में गहमागहमी बढ़ गई है। कर्णप्रयाग गैरसैंण राजमार्ग पर भरारीसैंण से आठ किमी पहले मालसी व सात किमी पहले कालीमाटी तक का क्षेत्र पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। बुधवार को संसदीय कार्यमंत्री प्रकाश पंत, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया। सायं से मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों के आने का सिलसिला शुरू हुआ है। गैरसैंण में विधानसभा सत्र के सुरक्षा ड्यूटी में नियुक्त समस्त पुलिस बल की पुलिस उप महानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र पुष्पक ज्योति ने राजकीय इंटर कालेज़ गैरसैंण में ब्रीफिंग लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। विधान सभा सत्र को सकुशल सम्पन्न कराने के उद्देश्य से दो जोन और छ: सेक्टर बनाये गये हैं। सभी स्थानों पर पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती की गई है।
विधान सभा ड्यूटी में पांच अपर पुलिस अधीक्षक ,सात पुलिस उपाधीक्षक , 17 निरीक्षक ,थानाध्यक्ष लगाए गए हैं। इसके अलावा उप निरीक्षक 60, महिला उप निरीक्षक आठ ,हेड कास्टेबल 45, सिविल पुलिस जवान 283 महिला कास्टेबल 38, तीन कंपनी पुरुष पीएसी ,दो प्लाटून महिला पीएसी, दो टीम क्यूआरटी ,दो टीम आतंकवादी निरोधक दस्ता , एसडीआरएफ़ , 80 होम गार्ड, जनपद चमोली की निर्भीक पुलिस यूनिट एवं पर्याप्त मात्रा में यातायात पुलिस को नियुक्त किया गया है।
इसके अतिरिक्त सादे वस्त्रों में एलआईयू के 85 अधिकारी, कर्मचारियों के अलावा फायर यूनिट के उपकरणों सहित 35 फायर मेन को भी नियुक्त किया है।
पुलिस उप महानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र पुष्पक ज्योति ने कहा कि सुरक्षा में आला अधिकारियों की नजर होगी। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक चमोली तृप्ति भट्ट , जिलाधिकारी चमोली आशीष जोशी भी उपस्थित थे। अधिकारियों ने बताया कि कानून व्यवस्था को किसी भी हाल में प्रभावित नहीँ होने दिया जायेगा।
कल आज से गैरसैंण के भरारीसैंण में सात दिवसीय विधानसभा सत्र शुरू होना है। विधानसभा सत्र की तैयारियां पूरी कर दी गई हैं। विधानसभा भवन में पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम हो चुके हैं। दिवालीखाल से भरारीसैंण के लिए स्थानीय वाहनों की चैकिंग के बाद आवाजाही कराई जा रही है। भरारीसैंण में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, संसदीय कार्यमंत्री प्रकाश पंत, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, वन मंत्री हरक सिंह रावत ने पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। विधानसभा भवन के बाहर दो स्तरीय बैरिकेटिंग की गई है। इसके अलावा भरारीसैंण पहुंचने तक चार जगह बैरिकेटिंग की गई है। गैरसैंण में 10 किमी क्षेत्र में बैरिकेटिंग कर चप्पे चप्पे में पुलिस चैकपोस्ट बनाए गए हैं। शिक्षकों सहित अन्य के विरोध प्रदर्शन के चलते पुलिस प्रशासन रात से ही आसपास के गांवों में भी नजर बनाए हुए है। ताकि प्रदर्शनकारी विधानसभा भवन तक न पहुंच पाएं। भरारीसैंण में लगातार वीआइपी, वीवीआइपी की आवाजाही से रौनक बढ़ गई है। नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष विधायक प्रीतम सिंह ने भी गैरसैंण भरारीसैंण पहुंचकर कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। नेता प्रतिपक्ष ने स्थानीय मुद्दों को लेकर भी गुफ्तगू की।
———————

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here