ब्रहमकुमारी ईश्वरीय महाविद्यालय ने आध्यात्म के साथ योग व कानूनी अधिकारों का भी ज्ञान बांटा

0
175

 

-ब्रहमकुमारी ईश्वरीय महाविद्यालय के जागरुकता शिविर में एसपी ने दी कानूनी अधिकारों की जानकारी

गोपेश्वर
हल्दापानी में ब्रहमकुमारी ईश्वरीय महाविद्यालय ने जागरुकता शिविर लगाकर लोगों को आध्यात्म के साथ साथ योग व कानूनी अधिकारों का भी ज्ञान बांटा।
कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक तृप्ति भट्ट ने ब्रहमकुमारी ईश्वरी महाविद्यालय की पहल को सराहनीय बताते हुए कहा कि महिलाओं को जागरुक होकर अपने अधिकारों को लेकर सजग होना पड़ेगा। एसपी ने कहा कि महिलाएं धार्मिक प्रवृत्ति की होने के चलते जन सेवा को लेकर ज्यादा संवेदनशील रहती है। लिहाजा उन्हें लोगों को जागरुक करने की पहल करनी चाहिए। एसपी ने महिलाओं को एटीएम फ्राड, बाल अपराध, घरेलू हिंसा सहित अन्य कानूनी मामलों की जानकारी दी। एसपी ने महिलाओं से अपील की कि वे अपराध रोकने के लिए किसी भी समय उनसे संपर्क कर सकती हैं। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि जोशीमठ के प्रमुख प्रकाश रावत ने कहा कि ब्रहमकुमारी संस्था के देशभर में सामाजिक कार्य सराहनीय हैं। कहा कि यह संस्था जिस प्रकार धार्मिक क्षेत्र में लोगों को जागरुक कर समाज सेवा की ओर लोगों को मोड़ रही है यह अच्छे समाज की परिकल्पना के लिए जरूरी है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए नगर पालिका अध्यक्ष संदीप रावत ने कहा कि महिला शक्ति हमेशा मार्गदर्शी रही है तथा इस शिविर में महिलाओं की संख्या इस बात का गवाह है कि वह समाज को नई दिशा देने के लिए तत्पर है। कार्यक्रम में ब्रहमकुमारी ईश्वरी महाविद्यालय की मेहर चंद्र , बहिन उषा दीदी ने कहा कि नेक इंसान बनने के लिए व्यक्ति के अंदर ईश्वरीय ऊर्जा होनी जरूरी है। इसके लिए सत्मार्ग पर चलना जरूरी है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति के मन में दूसरों की मदद व सेवा का भाव हो तो जीवन सत्मार्ग की ओर खुद ही अग्रसर होता है। इस अवसर पर पुष्कर चौधरी, प्रकाश नेगी, डा.यदुनंदन भट्ट, अशोक सजवाण, यशवंत सिंह, मेहर चंद्र, प्रेरणा, किरन, चेतना सहित कई लोगों ने विचार व्यक्त किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here